Thursday, November 27, 2014

उत्तर प्रदेश के बीएच यू में पुलिस द्वारा निर्दोष छात्रो की बर्बरतापूर्ण पिटाई करने की जाँच एवं घायल छात्रो को मुआवजा दिलाने के सन्दर्भ में |

video

सेवा में,                                        27 नवम्बर, 2014

श्रीमान अध्यक्ष महोदय,

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग,

नई दिल्ली |

विषय : उत्तर प्रदेश के बीएच यू में पुलिस द्वारा निर्दोष छात्रो की बर्बरतापूर्ण पिटाई करने की जाँच एवं घायल छात्रो को मुआवजा दिलाने के सन्दर्भ में |

महोदय,

      आपको यह अवगत करवाना है कि बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, वाराणसी में छात्रो द्वारा छात्र संघ बहाली की मांग पिछले एक महीने से किया जा रहा था | बीएचयू प्रशासन छात्रो की बात न तो सुन रहा था न ही कोइ वार्ता कर रहा था जिससे छात्र लोग शांतिपूर्ण तरीके से मौन अनशन कर रहे थे | 21 नवम्बर, 2014 को बीएचयू प्रशासन द्वारा पुलिस बुलाया गया | पुलिस ने मौन धरने पर बैठे छात्रो पर छात्रो से कोइ बात चीत किये बगैर लाठियां भाजनी शुरू कर दी जिससे कई छात्रो को गंभीर चोट आयी और कुछ छात्र आईसीयू में भर्ती है | पुलिस के इस अचानक बर्बरतापूर्ण पिटाई से पूरा माहौल बिगड़ गया |

      यदि पुलिस निर्दोष छात्रो से वार्ता करती और लाठीचार्ज न करती तो यह निंदनीय घटना नहीं घटित होती | इस पत्र के साथ संलग्नक वीडियो का लिंक में साफ़ दिखाई दे रहा है की पुलिस ने कैसे छात्रो को बर्बरतापूर्ण लाठीयो से पिटाई की है |   

      अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि कृपया इस मामले को संज्ञान में लेते हुए इस निंदनीय घटना की जाँच कराई जाय की किससे आदेश पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया और किन परिस्थितियों में | साथ ही पूलिस की मार से घायल छात्रो को उचित मुआवजा दिया जाय और दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाय |

 

संलग्नक :

1.         पुलिस द्वारा निर्दोष छात्रो की बर्बरतापूर्वक पिटाई का वीडियो |

 

भवदीय

डा0 लेनिन रघुवंशी

महासचिव

मानवाधिकार जननिगरानी समिति

सा 4/2 ए दौलतपुर, वाराणसी

+91-9935599333


No comments:

Post a Comment